The Parable of the Pipeline (Hindi)

The Parable of the Pipeline (Hindi)

Author : Burke Hedges

In stock
Rs. 195
Classification Network Marketing
Pub Date May 2019
Imprint Manjul
Page Extent 140
Binding Paperback
Language Hindi
ISBN 978-93-88241-86-1
In stock
Rs. 195
(inclusive all taxes)
OR
about book

द पैरेबल ऑफ़ द पाइपलाइन
नई अर्थव्यवस्था में अतिरिक्त आमदनी का स्थायी स्त्रोत कैसे बनाएँ
एक पाइपलाइन हज़ार वेतनों के बराबर होती है!
हम सब समृद्ध अर्थव्यवस्था में जी रहे हैं। लेकिन इसके बावजूद करोड़ों लोग वेतन के बीच जी रहे हैं और ख़र्च की पूर्ती करने के लिए ज़्यादा लंबे समय तक काम कर रहे हैं।
क्यों? क्योंकि उन्होंने ग़लत धारणा पर यक़ीन कर लिया है! वे पैसे-के-बदले-समय के जाल में फँस चुके हैं - एक दिन के काम के बदले में एक दिन का वेतन, एक महीने के काम के बदले में एक महीने का वेतन। क्या ऐसा नहीं है?
चाहे आप १०,००० डॉलर प्रति वर्ष कमाने वाले रसोई-कर्मी हों या १,००,००० डॉलर प्रति वर्ष कमाने वाले डॉक्टर, आप दोनों ही धन की एक इकाई के लिए समय की एक इकाई की अदला-बदली कर रहे हैं। आप एक वेतन से अगले वेतन के बीच किस तरह जी रहे हैं। जहाँ तक "नौकरी की सुरक्षा" की बात है - अगर छंटनी... बीमारी... चोट... या रिटायरमेंट की वजह से आप काम नहीं कर पाएंगे - तो वेतन रुक जाएगा!

About author

बर्क हेजेस एक दशक से ज़्यादा समय से व्यक्तिगत और वित्तीय स्वतंत्रता का नेतृत्व कर रहे हैं। अब तक उनकी लिखी 7 पुस्तकों का 10 भाषाओं में अनुवाद हो चूका है और पूरे विश्व में इनकी 20 लाख से अधिक प्रतियाँ बिक चुकी हैं। बर्क अपनी पत्नी और चार बच्चों के साथ अमेरिका के टैम्पा बे एरिया में रहते हैं।