AAP BHI BAN SAKTE HAIN APNE SAPNON KE INSAAN (Hindi edn. of Become the Person You Dream of Being)

AAP BHI BAN SAKTE HAIN APNE SAPNON KE INSAAN (Hindi edn. of Become the Person You Dream of Being)

Author : Wes Beavis

In stock
Rs. 150
Classification Self-Help
Pub Date 2003
Imprint Hindi Titles
Page Extent 191
Binding PB
ISBN 978-81-86775-07-3
In stock
Rs. 150
(inclusive all taxes)
OR
about book

हमारे सपने ही हमारे जीवन में अवसरों के द्वार खोलते हैं। यह पुस्तक बताती है कि बड़े सपने कैसे देखें और उन्हें साकार कैसे करें। अपने जीवन को समृद्ध, सुखी और सफल बनाने का अचूक तरीक़ा।

About author

Wes Beavis