Aadidev: Vishwa Ki Pratham Prem Katha ( Hindi)

Aadidev: Vishwa Ki Pratham Prem Katha ( Hindi)

Author : Prashant Dixit

Out of stock Notify Me
Rs. 250.00
Classification Fiction Novel
Pub Date 25th November 2023
Imprint Manjul Publishing House
Page Extent 178
Binding Paperback
Language Hindi
ISBN 9789355438058
Out of stock Notify Me
Rs. 250.00
(inclusive all taxes)
About the Book

इस कहानी का प्रारंभ 15000 ईसा पूर्व से होता है जहाँ पर रुद्र अपने साथियों के साथ कैलाश पर्वत की ओर बढ़ रहे हैं। रुद्र का जीवन बड़ा ही रहस्यमयी है। उनके विषय में जितना जानते जाओ, रहस्य उतने ही गहरे होते जाते हैं। हिमाचल के मंतलाई नाम के स्थान पर रुद्र की भेंट मंतलाई की राजकुमारी और राजा हिमान की पुत्री शिवी से होती है। धीरे-धीरे दोनों में प्रेम बढ़ता है और उनके विवाह की बात होने लगती है। किंतु रुद्र एक वनवासी हैं एवं शिवी एक राजकुमारी । शिवी की माता मीना को यह संबंध स्वीकार नहीं है। इतना ही नहीं राजा सुधांत के रूप में मंतलाई के द्वार पर एक भयावह संकट का आगमन हो चुका है। रुद्र और शिवी की प्रेम कथा कठिन परिस्थितियों का सामना कर ही रही थी कि तभी कनखल नरेश प्रजापति भी महाराज हिमान को रुद्र के विषय में एक ऐसी जानकारी देते हैं कि मानो हिमान के चरणों के नीचे से किसी ने आधार खींच लिया हो। शिवी और रुद्र का अटूट प्रेम कैसे अपने परिणाम तक पहुँचेगा; इसी रोचक यात्रा का नाम है 'आदिदेव - विश्व की प्रथम प्रेम कथा ।'

About the Author(s)

प्रशांत दीक्षित का जन्म 4 सितंबर 1987 को मध्यप्रदेश के सागर जिले में हुआ। इन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा सागर से ही पूर्ण की एवं उस के बाद विदिशा के शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में इंजीनियरिंग डिग्री प्राप्त की। ये वर्ष 2013 से कौशल विकास विभाग मध्यप्रदेश के अंतर्गत संचालित शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में प्रशिक्षण अधिकारी के पद पर कार्यरत हैं एवं वर्तमान में भोपाल में निवासरत हैं। इनकी रुचि प्रारंभ से ही साहित्य में रही है। गद्य लेखन के साथ-साथ ग़ज़ल एवं हिंदी कविता में भी इनकी रुचि है तथा 'आदिदेव' इनका प्रथम प्रकाशित उपन्यास है।

[profiler]
Memory usage: real: 20971520, emalloc: 18441112
Code ProfilerTimeCntEmallocRealMem