Bachchon Ka Vikas Kaise Karein: Ek Kahani Se Sikhein

Bachchon Ka Vikas Kaise Karein: Ek Kahani Se Sikhein

Author : Tejgyan Foundation (Sirshree)

Out of stock Notify Me
Rs. 125.00
Classification Inspirational/ Self-help
Pub Date 14 June 2016
Imprint Manjul Hindi
Page Extent 192 pages
Binding Paperback
Language Hindi
ISBN 9788183227384
Out of stock Notify Me
Rs. 125.00
(inclusive all taxes)
About the Book

बच्चों का विकास कैसे करें एक कहानी से सीखें SON OF BUDDHA
परवरिश और नींव-नियम रहस्य बच्चों की परवरिश कैसे करें - इस विषय पर रोचक तरीके से सिखाने वाला यह एक अनोखा उपन्यास है I इसमें माँ यशोधा, दादाजी सुयोधन और पिताजी सिद्धार्थ मिलकर बेटे राहुल को प्रशिक्षण देकर संपूर्ण रूप से सफ़ल इंसान बनाने का प्रयास कर रहे हैं I वे इस लक्ष्य की तैयारी क्यों और कैसे करते हैं... क्या राजा सिद्धार्थ, अपने पुत्र राहुल को उसके उच्च स्वरुप और नींव का दर्शन करवा पाते हैं? राहुल को गुप्त कक्ष और नींव-नियम का रहस्य वे कैसे बताते हैं ? इन सभी सवालों के जवाब पाएँ इस अदभुत कहानी में I
आज के अभिभावकों के लिए लिखा गया परवरिश पर आधारित यह उपन्यास बच्चों के साथ रहने वाले सभी शुभचिंतक पढ़ सकते हैं I आप भी इस रोचक कहानी द्वारा स्वयं की ट्रेंनिंग कर सकते हैं, जिससे आपकी गलत आदतों को समाप्त करने तथा सद्गुणों का विकास करने की अत्यावश्यकता का निर्माण हो सके I
तो चलिए, सन ऑफ़ बुद्धा की दुनिया में प्रवेश करके जानते हैं कि परवरिश और क्षमा के रहस्य का जादू बच्चों के जीवन में कैसे कार्य करता है !

About the Author(s)

Sirshree is a spiritual maestro whose key teaching is that all paths that lead to truth begin differently but end in the same way—with understanding. Listening to this understanding is enough. Sirshree has delivered more than a thousand discourses and written over forty books on spirituality and self-help. He is the founder of the Tej Gyan Foundation which disseminates a unique system of wisdom from self -help to self-realization.

[profiler]
Memory usage: real: 20971520, emalloc: 18427520
Code ProfilerTimeCntEmallocRealMem