Suramya Satpura: Alaukik Vanya Saundarya ( Hindi)

Suramya Satpura: Alaukik Vanya Saundarya ( Hindi)

Author : Suresh Patwa

In stock
Rs. 499.00
Classification Non-Fiction/Short Stories
Pub Date December 2022
Imprint Sarvatra An Imprint Manjul Publishing House
Page Extent 360
Binding Paperback
Language Hindi
ISBN 9789355432377
In stock
Rs. 499.00
(inclusive all taxes)
OR
About the Book

पहाड़, नदियों के प्रेमी सुरेश पटवा ने अपनी प्रकृति के अनुकूल बौद्धिक चातुर्य से सतपुड़ा के पूरे क्षेत्र का किताबों और घुमंतू तरीक़ों से अनुसंधान करके एक उत्कृष्ट कृति सुरम्य सतपुड़ा रची है।

बहुधा लोग हिमालय की चोटियों, घाटियों, नदियों, तराई के जंगलों के प्रति आकर्षित होते हैं, पर्यटन की योजना बनाते हैं। किंतु सतपुड़ा और विंध्याचल वृष्टिछाया में रह जाते हैं। जिज्ञासु प्रकृति, शोधप्रिय, पर्यटन प्रेमी और अध्ययनशील श्री पटवा बाल्यकाल से प्रकृति की सुंदरता से प्रेरित होते रहे।

कवियों ने भी सतपुड़ा को जानने समझने की कोशिशें की हैं किंतु शत-प्रतिशत सफलता मिली केवल कविवर पं. भवानी प्रसाद मिश्र को। सुरम्य सतपुड़ा में मिश्र जी की कविता को सजाया गया है। सतपुड़ा का अलौकिक सौंदर्य बरसात के मौसम में अद्भुत होता है जब हज़ारों झरने-प्रपात मचलते खिलखिलाते कलकल ध्वनियों से रुमानी माहौल रचते नीले आकाश की बिछावन पर काले-स़फेद बादलों के आलिंगन में रसारस होते हैं।

गंगा के मैदान को हिमालय, सतपुड़ा, विंध्याचल मिलकर समृद्ध करते हैं। यदि ये न होते तो गंगा का उर्वरक मैदान रेतीला बियाबान होता। सतपुड़ा के साये में बान्धवगढ़, कान्हा-किसली, पचमढ़ी का बाघ अभयारण्य शेरों के लिए सुरक्षित और जैव विविधता का स्वर्ग न होता। इसे आँखों से मन-मस्तिष्क और हृदय में उतारने पर ही सार्थकता है।

About the Author(s)

सुरेश चंद्र पटवा का जन्म 1952 में म.प्र. के होशंगाबाद जिले के सोहागपुर में हुआ। आपकी माता का नाम श्रीमती दमयंती बाई और पिता का नाम श्री शंकर लाल पटवा है। आपकी शिक्षा एम. कॉम. है।

आपकी लेखन विधाएं कहानी, उपन्यास, इतिहास, लघुकथा, कविता, ग़ज़ल, वांग्मय, आध्यात्मिक साहित्य और यात्रा वृतांत हैं परंतु केंद्रीय विधा इतिहास व वांग्मय है, जिसके लिए आप जाने जाते हैं। आपकी कुल 12 कृतियाँ प्रकाशित हैं जिन्हें विभिन्न संस्थाओं ने सम्मानित किया है।

तुलसी साहित्य सम्मान-2020
अखिल भारतीय भाषा साहित्य सम्मेलन द्वारा प्रदत्त डॉ.पोथुकुची साम्बा शिवराम मेमोरियल एक्सेलेन्सी अवॉर्ड-2021
सोहागपुर साहित्य समिति द्वारा साहित्य सृजक सम्मान-2021
प्रभात साहित्य परिषद द्वारा शफ़ीक़ तनवीर सम्मान-2022
भारतीय स्टेट बैंक, भोपाल वृत्त द्वारा उल्लेखनीय साहित्य सेवा सम्मान-2022
सत्य की मशाल पत्रिका द्वारा व्यंग साहित्य सेवी सम्मान-2022
शिव संकल्प साहित्य परिषद, नर्मदापुरम द्वारा साहित्य गौरव सम्मान-2022
मध्य प्रदेश राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, हिन्दी भवन द्वारा हज़ारी लाल जैन स्मृति वांग्मय पुरस्कार-2022

[profiler]
Memory usage: real: 20971520, emalloc: 18444688
Code ProfilerTimeCntEmallocRealMem