Purush Kyun Nahi Sunte aur Mahilayen Kyun Nahi Samajhti

Purush Kyun Nahi Sunte aur Mahilayen Kyun Nahi Samajhti

Author : Allan and Barbara Pease

In stock
Rs. 399
Classification Realtionships/ Self Help
Pub Date 15 September 2015
Imprint Manjul Hindi
Page Extent 282 pages
Binding Paperback
Language Hindi
ISBN 9788183226134
In stock
Rs. 399
(inclusive all taxes)
OR
About the Book

पुरुष क्यों नहीं सुनते और महिलाएँ क्यों नहीं समझती ...
ऐलन और बारबरा पीज़ की दुनिया भर में 2 .5 करोड़ से अधिक पुस्तकें बिक चुकी हैं I वे पुरुषों और महिलाओँ की मानसिकता, प्रवृति व् आदतों में पाई जाने वाली असमानताओं का विस्तृत तथा जानकारीपरक विवरण दे रहे हैं I यह एक व्यवहारिक, हास्यप्रद व् सरल पुस्तक है, जो स्त्री - पुरुषों के बारे में तथ्यों को समझने में आपकी सहायता करेंगी और यह भी बताएगी कि संबंधों को बेहतर बनाने के लिए क्या करना चाहिए I

इस पुस्तक में बताया गया है :
• क्यों पुरुष एक समय में एक से अधिक काम नहीं कर पाते
• क्यों महिलाएँ गाड़ियों की रिवर्स पार्किंग में इतनी गड़बड़ करती हैं
• क्यों पुरुषों को महिलाएँ से झूठ नहीं बोलना चाहिए
• क्यों महिलाएँ ज़्यादा बात करती हैं और पुरुष बहुत कम
• क्यों पुरुषों को कामोत्तेजक छवियाँ पसंद आती हैं और महिलाओँ को नहीं
• क्यों महिलाएँ हर मसले पर बात करना पसंद करती हैं
• क्यों पुरुष समाधान तो बता सकते हैं लेकिन सलाह लेना पसंद नहीं करते
• क्यों पुरुषों की ख़ामोशी महिलाओँ की हताश करती है
• क्यों पुरुषों को सेक्स चाहिए? और महिलाओँ को प्रेम?

About the Author(s)

ऐलन और बारबरा पीज़ की 54 भाषाओं में 2.6 करोड़ से अधिक पुस्तकें बिक चुकी हैं, और वे ऑस्ट्रेलिया के सबसे सफल लेखक भी हैं। ऐलन बॉडी लैंग्वेज एक्सपर्ट हैं और बारबरा पीज़ इंटरनेशनल की सी.ई.ओ. हैं I वे 40 से ज़यादा देशों में सेमिनार भी दे चुके हैं I

[profiler]
Memory usage: real: 15990784, emalloc: 15454872
Code ProfilerTimeCntEmallocRealMem