Originals: Duniya Ko Kaise Prabhavit Karte Hai Leek Se Hatkar Chalnewale Log ( Hindi)

Originals: Duniya Ko Kaise Prabhavit Karte Hai Leek Se Hatkar Chalnewale Log ( Hindi)

Author : Adam Grant (Author) Kiran Moghe (Translator)

In stock
Rs. 499.00
Classification Non-Fiction/Society & Social Science
Pub Date June 2023
Imprint Manjul Publishing House
Page Extent 268
Binding Paperback
Language Hindi
ISBN 9789355432919
In stock
Rs. 499.00
(inclusive all taxes)
OR
About the Book

नये विचार होना एक बात है, और उन्हें पूरा करना अलग बात है। अपनी पीढ़ी के सबसे उत्तेजक अग्रणी विचारकों में से एक एडम ग्रांट, बताते हैं कि कैसे लोग अच्छे विचारों को पहचान सकते हैं और मौन के बजाय अपनी आवाज को बुलंद कर सकते हैं, अभिभावक कैसे बच्चों को रचनात्मक बना सकते हैं और नेतृत्वकर्ता कैसे भेड़चाल से लड़ते हुए नये विचारों, नई खोज को प्रोत्साहित करने वाली संस्कृति को विकसित कर सकते हैं।
उल्लेखनीय अध्ययनों और कारोबार, राजनीति, खेल और मनोरंजन की दुनिया से जुड़ी कहानियों का इस्तेमाल करके ग्रांट बताते हैं कि आश्चर्यजनक सच्चाई यह है कि निराले विचार रखने वाले लोग ठीक हमारी तरह ही होते हैं। वह भी कामों को टालते हैं। संदेह और भय से वह भी जूझते हैं। उन्हें भी बुरे और ग़लत विचार आते हैं। जो बात उन्हें आम व्यक्ति से अलग बनाती है वह यह है कि वह फिर भी कदम उठाकर आगे बढ़ते हैं। यह किताब हमें अनूठी अंतरंग जानकारी देती है कि हम सब कैसे अपने सर्वश्रेष्ठ विचारों पर महारत हासिल करके सफल बन सकते हैं।

“यह अद्भुत, बेहद मनोरंजक किताब बदलाव के इस युग पर नई रोशनी डालती है। सफलताओं की कहानियों के मिथक का पर्दाफाश करके, प्रक्रिया की पुरानी धारणाओं को चुनौती देकर और भारी बदलाव के कारकों में समानताओं को खोजकर, एडम ग्रांट हमें न केवल दुनिया में हमारी जगह का नया नज़रिया देते हैं, बल्कि उसे पूरी तरह से प्रभावित करने की हमारी क्षमता की भी जानकारी देते हैं।”
- जे.जे अब्राम्स, स्टार वॉर्स : द फ़ोर्स अवेकन्स के निर्देशक, लॉस्ट के सह-रचनाकार और कार्यकारी निर्माता, बैड रोबोट के सह-संस्थापक
“ओरिजिनल्स मेरे द्वारा आज तक पढ़ी गई सबसे महत्वपूर्ण और दिलकश किताबों में से एक है। यह हैरतअंगेज़ और दमदार विचारों से भरपूर है। यह न केवल दुनिया को देखने का आपका नज़रिया बदल देगी, बल्कि संभव है कि यह आपके जीने के तरी़के को बदल डाले। और यह निश्चित तौर पर आपको दुनिया को बदलने के लिए प्रेरित करेगी।”
- शेरिल सैंडबर्ग, मुख्य कार्यकारी अधिकारी - फ़ेसबुक, लीन इन की लेखिका

About the Author(s)

एडम ग्रांट को लगातार पाँच वर्ष तक वार्टन के शीर्ष क्रम के अध्यापक, दुनिया के शीर्ष 25 प्रभावशाली प्रबंधन विचारकों और फ़ास्ट कंपनी के कारोबार में मौज़ूद 100 सबसे ज़्यादा रचनात्मक लोगों में से एक के तौर पर पहचाना जाता है। उनकी पहली किताब, गिव ऐंड टेक न्यू यॉर्क टाइम्स की बेस्टसेलर किताब रही, जिसका 27 भाषाओं में अनुवाद किया गया और एमेज़ॉन, एपल, द फ़ाइनेंशियल टाइम्स और द वॉल स्ट्रीट जर्नल ने इसे 2013 की सर्वश्रेष्ठ किताब करार दिया। यह ओपरा की दिलचस्प और पठनीय किताबों की सूची में शामिल रही है। फ़ॉर्च्यून ने इसे हर हाल में पढ़ने लायक़ कारोबारी किताब बताया है तो हार्वर्ड बिज़नेस रिव्यू के मुताबिक़ यह उन विचारों से सजी है, जिन्होंने दुनिया बदल डाली और द वॉशिंगटन पोस्ट के अनुसार यह एक ऐसी किताब है, जिसे हर नेतृत्वकर्ता को पढ़ना चाहिए। निराले और मौलिक विचारकों की हैरान कर देने वाली आदतों पर उनके 2016 के टेड टॉक में उपस्थितजनों ने खड़े होकर करतलध्वनि से उनको सम्मानित किया था। इस वीडियो के दर्शकों की संख्या पाँच ही दिन में लाखों के आंकड़े को पार कर गई थी। गूगल, फेसबुक, द एनबीए, जॉनसन ऐंड जॉनसन, गोल्डमैन सॅक्स, डिज्ऩी पिक्सार, अमेरिकी सेना और नौसेना के साथ-साथ वर्ल्ड इकोनॉमिक फ़ोरम (डब्ल्यूईएफ़) के लिए वह नियमित तौर पर संबोधन और परामर्श देते रहते हैं। डब्ल्यूईएफ़ ने तो उन्हें युवा वैश्विक नैता के तौर पर मान्यता दे रखी है। वह द न्यू यॉर्क टाइम्स के संपादकीय के सामने वाले पृष्ठ (ओप-एड) के लिए कार्य और मनोविज्ञान पर नियमित लेखन करते हैं। हार्वर्ड से बीए करने वाले ग्रांट ने यूनिवर्सिटी ऑफ़ मिशिगन से पीएचडी की है। उम्र के 20वें ही वर्ष में वे वार्टन के लिए काम करने लगे थे। उन्हें ख़ुद के द्वारा पढ़ाई गई हर कक्षा के लिए उत्कृष्ट शिक्षक पुरस्कार मिलता रहा है। वह पूर्व में जादूगर और जूनियर ओलिंपिक स्प्रिंगबोर्ड डाइवर रह चुके हैं।

[profiler]
Memory usage: real: 20971520, emalloc: 18462576
Code ProfilerTimeCntEmallocRealMem