The Laws of Human Nature (Hindi)

The Laws of Human Nature (Hindi)

Author : Robert Greene (Author) Madan Soni (Translator)

In stock
Rs. 399.00
Classification Self-Help
Pub Date 25th January 2024
Imprint Manjul Publishing House
Page Extent 350
Binding Paperback
Language Hindi
ISBN 9789355433923
In stock
Rs. 399.00
(inclusive all taxes)
OR
About the Book

सदियाँ बीत जाने के बावजूद मनुष्य की आकांक्षाएँ और कमज़ोरियाँ पहले जैसी बनी हुई हैं। ग्रीन अतीत की उन मूल्यवान शिक्षाओं को सामने लाते हैं जो लोगों को प्रेरित करने वाली सच्चाई को उजागर करती हैं, और वे हमें सीख देते हैं कि कामयाबी और शक्ति के लिए ज्ञान का उपयोग कैसे किया जाए। वे हमें बताते हैं कि हम अपनी भावनाओं को कैसे अनुशासित करें और दूसरे लोगों के मुखौटों को भेदकर उनका असली चेहरा कैसे देखें।

यह पुस्तक चरित्र-निर्माण, अपने स्याह पक्ष का सामना करने, समूह के आकर्षण का प्रतिरोध करने और अपने ध्येय का बोध हासिल करने से सम्बन्धित शिक्षाओं से भरी है। चाहे आप अपने कार्य-स्थल पर हों, रिश्ता निभा रहे हों, या अपने आसपास की दुनिया को समझने और गढ़ने का प्रयत्न कर रहे हों, ग्रीन इन सभी मोर्चों के लिए सफलता, विजय और आत्मरक्षा की उत्कृष्ट युक्तियाँ पेश करते हैं - एक ऐसी मार्गदर्शिका के रूप में जिसकी मदद से आप अपने सर्वाधिक शक्तिशाली रूप को सामने ला सकें।

About the Author(s)

रॉबर्ट ग्रीन अनेक पुस्तकों के लेखक हैं जिनमें द 48 लॉज़ ऑफ़ पावर, द 33 स्ट्रेट्जीज़ ऑफ़ वार, द आर्ट ऑफ़ सिडक्शन और द फ़िफ़्टियथ लॉ आफ़ मास्टरी शामिल हैं। उन्होंने क्लासिकल स्टडीज़ में डिग्री हासिल की है और एस्क्वायर तथा अन्य पत्रिकाओं के संपादक रहे हैं।

[profiler]
Memory usage: real: 20971520, emalloc: 18422952
Code ProfilerTimeCntEmallocRealMem